हिंदी में जानकारी

गोलगप्पे के खट्टे मीठे पानी भले ही बहुत अच्छे लगते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि गोलगप्पे के पानी के वजह से हो सकता है ब्लड प्रेशर, अल्सर, जॉन्डिस और डायरिया का खतरा।

हिंदी में जानकारी

पानी पूरी खाने वाले लोगो को रेस्टोरेंट के पानी पूरी से अच्छा सड़क के किनारे ठेले वाला पानी पूरी अच्छा लगता है और बहुत सारे लोग सड़क के किनारे ठेले से ही गोलगप्पे खाना पसंद करते हैं।

हिंदी में जानकारी

क्या आप भी ठेले से गोलगप्पे खाते हैं तो अभी से अलर्ट हो जाइये। दरअसल गोलगप्पे को नेपाल के काडमांडू घाटी के ललितपुर में बैन कर दिया गया है। क्योकि घाटी में कॉलरा के मामले बढ़ गए हैं।

हिंदी में जानकारी

नेपाल के ललितपुर में फैला हुआ कॉलरा, डायरिया का ही सीरियस रूप है। ललितपुर मेट्रोपोलिटिन सिटी के अनुसार पानी पूरी में इस्तेमाल किये जाने वाले पानी मे हैजा (कॉलरा) के बैक्टीरिया थे।

हिंदी में जानकारी

गोलगप्पे के पानी मे नमक की मात्रा ज्यादा होने से ब्लड प्रेशर बढ़ने की समस्या हो सकती है। यदि पानी पूरी बनाने वाले तेल की क्वालिटी अच्छी नही है तो इससे भी सेहत पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

हिंदी में जानकारी

सड़क के किनारे पानी पूरी खाने के पहले आपको ये जरूर देख लेना चाहिए कि जिस बर्तन में पानी रखा गया है वह साफ सुथरा है या फिर नही। इससे भी तबियत खराब हो सकता है।

हिंदी में जानकारी

आमतौर पर पानी पूरी के पानी को खट्टा करने के लिए सूखे और कच्चे आम, नीबू , इमली का प्रोयग किया जाता है। लेकिन आम सभी सीजन में मिलता भी नही है और नीबू के दाम भी बहुत ज्यादा होते हैं। 

हिंदी में जानकारी

इसलिए पानी को खट्टा बनाने के लिए अर्टिफिकेल एसिड जैसे टार्टरिक एसिड, हाइड्रोक्लोरिक एसिड और ऑक्जेलिक एसिड का इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा अर्टिफिकेल कलर भी इस्तेमाल होता है।

हिंदी में जानकारी

पानी पूरी के पानी को हरा और खूबसूरत बनाने के लिए पुदीने की पत्ती और धनिये की पत्ती मिलाने के स्थान पर आर्टिफीसियल कलर को भी बहुत ज्यादा उपयोग किया जा रहा है।

हिंदी में जानकारी

पानी पूरी के खट्टे पानी मे एसिड मिलाने और आर्टिफीसियल कलर मिलाने की वजह से पानी पूरी स्लो पॉइज़न की तरह काम करते हैं।